ये हैं नोएडा सेक्टर 18 मार्केट के सात सबसे बढ़िया शाकाहारी रेस्टोरेंट

आजकल शहर के बड़े रेस्त्रां में वेज-नॉन वेज दोनों खाना एक साथ परोसे जाने से शाकाहारी लोगों को काफी परेशानी होती है। शाकाहारी लोगों के लिए शहरों में खाने-पीने की बेहतर जगह ढूंढना काफी मुश्किल होता है। आपकी इसी परेशानी को ध्यान में रखकर आज मैं नोएडा के मेन मार्केट सेक्टर 18 के सात बेस्ट शाकाहारी रेस्त्रां का यहां जिक्र करने जा रहा हूं। अब जब भी नोएडा सेक्टर 18 या इसके आसपास के इलाके में मार्केटिंग

दिल्ली से वीकेंड यात्रा- घूम आइए धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र, जहां भगवान श्रीकृष्ण ने दिए गीता के उपदेश

कुरुक्षेत्र हरियाणा में स्थित एक ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व का स्थल है। भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन के दिए गीता के अपने पहले श्लोक में ही धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र के रूप में इसका वर्णन किया है। इसी भूमि पर महाभारत की लड़ाई लड़ी गई थी। भगवान कृष्ण ने अर्जुन को यहां के ज्योतिसर में कर्म के दर्शन का ज्ञान दिया था।  

नोएडा शिल्प हाट में 13 अक्तूबर तक लीजिए दीप उत्सव का आनंद

नोएडा शिल्प हाट में आजकल दीप उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। यह दीप उत्सव 13 अक्तूबर तक चलेगा। इसका उद्घाटन 4 अक्तूबर को पूर्व केंन्द्रीय मंत्री और स्थानीय सांसद डॉ महेश शर्मा ने किया। नोएडा में पिछले 17 साल से इस तरह का आयोजन किया जा रहा है। पहले यह आयोजन नोएडा स्टेडियम में होता था।

दिल्ली का फैशन स्ट्रीट है जनपथ मार्केट

लेटेस्ट फैशन के दीवाने लोगों के बीच दिल्ली का जनपथ मार्केट काफी पॉपुलर है। यह दिल्ली का फैशन स्ट्रीट है। दिल्ली की लड़कियों, खासकर कॉलेज की लड़कियों की जान है यह जनपथ मार्केट। स्ट्रीट शॉपिंग करने वाले लोगों के लिए यह एक फेवरिट जगह है। कनॉट पैलेस के पास होने के कारण यहां लोगों की भीड़ लगी रहती है।

श्री बालाजी सालासर धाम मंदिर यात्रा

श्री खाटू श्याम भगवान का दर्शन करने के बाद हम दिल्ली एनसीआर से आए सभी लोग श्री बालाजी सालासर धाम की ओर रवाना हो गए। श्री बालाजी सालासर धाम भी बहुत ही दिव्य स्थल है। यह राजस्‍थान के चुरू ज‌िले में है। यहां हनुमान जी को सालासर बालाजी के नाम से जानते हैं। शायद यह देश का एकलौता दाढ़ी-मूछों वाले हनुमान जी यानी बालाजी का मंदिर है।

श्री खाटू श्याम जी दर्शन यात्रा

राजस्थान में शेखावाटी इलाके के सीकर जिले में है खाटू श्याम धाम। यहां भगवान श्रीकृष्ण के कलयुगी अवतार खाटू श्यामजी की दुनियाभर में प्रसिद्ध मंदिर है। बचपन से ही श्री खाटू श्याम जी भगवान के दर्शन की इच्छा थी और जब पता चला कि हमारे यहां से एक बस खाटू जी जा रही है, तो खुद को रोक ना सका। शनिवार की रात

वनप्लस का नया जोरदार स्मार्टफोन OnePlus 7T लॉन्च

वनप्लस ने नई दिल्ली में एक इवेंट के दौरान अपना अब तक का सबसे बेहतरीन स्मार्टफोन OnePlus 7T लॉन्च कर दिया है। वनप्लस 7टी स्मार्टफोन में में 6.55 इंच का फुल-एचडी+ (1080x2400 पिक्सल) फ्लूइड डिस्प्ले है। इसमें ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 855+ प्रोसेसर, एड्रेनो 640 जीपीयू और 8 जीबी तक रैम है। जो 3डी गेम,

रिच डैड पुअर डैड- खुद के लिए कीजिए काम और बनिए अमीर

रॉबर्ट टी. कियोसाकी की किताब है- रिच डैड पुअर डैड। रॉबर्ट कियोसाकी की यह बेस्टसेलर किताब वह सब बताती है, जो अमीर लोग पैसे को लेकर अपने बच्चों को सिखाते हैं। लेकिन गरीब या मिडिल क्लास के लोग अपने बच्चों को उससे दूर रखते हैं। अगर आप अमीर बनना चाहते हैं तो आपको रॉबर्ट कियोसाकी की यह किताब पढ़नी ही चाहिए। यह आपके अंदर पैसे की समझ पैदा करती है।

ब्लॉग के लिए कितना जरूरी है SEO, एसईओ से जुड़ी 20 बुनियादी बातें

किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट के लिए सबसे जरूरी चीज है SEO, एसईओ यानी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन। SEO का काम सर्च इंजन को ब्लॉग, वेबसाइट में मौजूद पोस्ट को समझने और उसे पेश करने में मदद करना है। हम जब कोई ब्लॉग पोस्ट या ऑर्टिकल लिखते हैं तो चाहते हैं कि लोग इसे पढ़े और उसका फायदा उठाए। लोग आपका ऑर्टिकल पढ़े इसके लिए यह जरूरी है कि वह गूगल, बिंग या अन्य सर्च में टॉप पर दिखे। अगर आप

इन पांच वेबसाइटों से आपको मिलेगा फ्री में प्रोडक्ट सैंपल

आजकल कई कंपनियां प्रोडक्ट को लॉन्च करने से पहले या फिर बाद में प्रचार-प्रसार के लिए फ्री सैंपल देती हैं। कंपनियां सर्फ, सैंपू, साबुन से लेकर मोबाइल तक रिव्यू करने के लिए मुफ्त में देती है। प्रोडक्ट के रिव्यू से मिले सुझाव के अनुसार कंपनियां उसमें सुधार लाती हैं। हम भी जब किसी दुकान या शॉपिंग मॉल में खरीदारी के लिए जाते हैं और फ्री में कुछ मिलता है तो काफी अच्छा लगता है।

घर बैठे कमाना चाहते हैं तो ब्लॉग शुरू कीजिए, जानिए कैसे

अगर आपको लिखने का शौक है और इससे कमाना भी चाहते हैं तो सबसे बढ़िया ऑप्शन है- ब्लॉग (Blog)। घर बैठे कमाई का यह सबसे बेहतर जरिया है। एक बार पैसा आना शुरू हो गया तो फिर चिंता करने की जरूरत नहीं है। इससे आपका लिखने का शौक तो पूरा होगा ही, आमदनी भी होगी। अगर आप सोच रहे हैं कि इसे शुरू कैसे करें तो आइए देखते हैं कि आपको सिलसिलेवार ढंग से कैसे क्या करना है-

करियर में कामयाबी के लिए आपनाएं ये 5 बातें

आज की भागदौड़ और कंपीटिशन की दुनिया में कई बार काफी मेहनत करने के बाद भी करियर में कामयाबी नहीं मिल पाती है। असल में कामयाबी के लिए जो जोश और जुनून होना चाहिए, उसे हम बरकरार नहीं रख पाते हैं। जिस सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ना चाहिए, वह कर नहीं पाते हैं। अगर हम कुछ बातों को ध्यान में रखें तो करियर में कामयाबी जरूर मिलेगी।

प्रधानमंत्री मोदी की 10 योजनाएं जिसने बदल दी देश की तस्वीर

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के विकास के लिए कई क्रांतिकारी योजनाएं शुरू की है जिसने देश की तस्वीर बदल कर रख दी हैं। आज हम मोदी सरकार की उन 10 प्रमुख योजनाओं पर चर्चा करेंगे जो देश के आर्थिक उत्थान में सकारात्मक भूमिका अदा कर रही है।

प्रधानमंत्री को मिले उपहारों को अपना बनाना चाहते हैं? यहां आइए

अगर आप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को मिले उपहारों को अपने घर लाना चाहते हैं तो यह मौका हाथ से ना जाने दीजिए। केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने शनिवार, 14 सितंबर को दिल्ली में प्रधानमंत्री को मिले उपहारों की नीलामी शुरू की। दिल्ली के नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट में शुरू हुई इस नीलामी में आप भी ऑनलाइन शामिल हो सकते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर उन पर केंद्रित नई पुस्तक ‘लॉर्ड ऑफ रिकॉर्ड्स’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर प्रभात प्रकाशन उन पर लिखी एक नई पुस्तक लेकर आ रहा है। इस पुस्तक का नाम है ‘लॉर्ड ऑफ रिकॉर्ड्स’ और इसके लेखक हैं वरिष्ठ पत्रकार और प्रसिद्ध लेखक डॉ. हरीश चंद्र बर्णवाल। प्रधानमंत्री मोदी पर डॉ. बर्णवाल की यह चौथी पुस्तक है। जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है इस

मिथिला की सांस्कृतिक राजधानी दरभंगा में है पर्यटन की अपार संभावनाएं

पग-पग पोखर, पान मखान
सरस बोल, मुस्की मुस्कान
विद्या-वैभव शांति प्रतीक
ललित नगर दरभंगा थिक

मिथिला की सांस्कृतिक राजधानी दरभंगा विद्या, वैभव, खानपान, मधुर मुस्कान और अपनी मीठी बोली के लिए दुनियाभर में मशहूर है। ध्रुपद गायन, मिथिला पेंटिंग, सिक्की और सुजनी लोककला के साथ अपनी गौरवशाली संस्कृति पर मिथिला के लोग नाज कर करते हैं। इन गौरवशाली अतीत और आसपास सैकड़ों पर्यटक स्थल होने के बावजूद मिथिला का ह्रदय स्थल दरभंगा आजादी के बाद से ही उपेक्षित है।