इस प्लेटफॉर्म से किराना दुकानदार देंगे बड़े ई-कॉमर्स साइट को टक्कर

कोरोना वायरस संकट छोटे व मझोले किराना और अन्य दुकानदारों के लिए किसी आफत से काम नहीं है। देश के खुदरा कारोबारियों के संगठन कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) के मुताबिक अबतक साढ़े पांच लाख करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है।

ऐसी परिस्थिति में बिहार के कुछ युवा उद्यमी ने छोटे व मझोले किराना और अन्य दुकानदारों के लिए एक वेव प्लेटफार्म RewardsPlus बनाया है। दुकानदार merchant.rewardsplus.in पर  कुछ साधारण स्टेप में रजिस्टर करके अपने दुकान को ऑनलाइन ला सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म से जुड़कर छोटे किराना दुकानदार बड़े ई-कॉमर्स साइट को टक्कर दे सकेंगे।

रिवार्ड प्लस से जुड़ने के बाद दुकानदार अपने आसपास के ग्राहकों को सुविधा मुहैया करा सकते हैं। यह प्लेटफार्म बिलकुल मुफ्त है और जरूरी ट्रेनिंग के लिए RewardsPlus की टीम हमेशा उपलब्ध रहती है।

ड्रिस्ट्रिब्यूटर्स, थोक विक्रेताओं, ब्रांड्स, रिटेलर्स से लेकर छोटे कारोबारी तक RewardsPlus के जरिए सामानों की बिक्री के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। 12 मई से यह देशभर के दुकानदारों के लिए उपलब्ध रहेगा।

आइए जानते हैं इस पोर्टल की खास बातें-
  • पोर्टल पर सामान सर्च करने पर आपको सबसे पहले आपके पिनकोड अथवा पांच किलोमीटर के एरिया की दुकान से सामान खरीदने का ऑप्शन मिलेगा।
  • ग्राहक को दो घंटे के भीतर सामान की डिलिवरी मिल जाएगी।
  • इस पोर्टल से सामान मंगाने के लिए आपको डिलिवरी चार्ज नहीं देना होगा।
  • यह पूरी तरह से स्वदेशी पोर्टल होगा और विक्रेताओं से किसी तरह का कमीशन या शुल्क नहीं देना होगा।
दिल्ली-एनसीआर में इस प्लेटफॉर्म को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया जा चुका है। कंपनी के कर्ताधर्ता अविनाश कुमार झा के मुताबिक इस प्रोजेक्ट को रिटेलर्स, वितरकों और ग्राहकों से जबरदस्त रेस्पांस मिला है। उन्होंने कहा कि पायलट प्रोजेक्ट से मिली सीख का इस्तेमाल करके सेवाओं को और बेहतर बनाया जाएगा।

No comments:

Post a Comment