घर बैठे कमाना चाहते हैं तो ब्लॉग शुरू कीजिए, जानिए कैसे

अगर आपको लिखने का शौक है और इससे कमाना भी चाहते हैं तो सबसे बढ़िया ऑप्शन है- ब्लॉग (Blog)। घर बैठे कमाई का यह सबसे बेहतर जरिया है। एक बार पैसा आना शुरू हो गया तो फिर चिंता करने की जरूरत नहीं है। इससे आपका लिखने का शौक तो पूरा होगा ही, आमदनी भी होगी। अगर आप सोच रहे हैं कि इसे शुरू कैसे करें तो आइए देखते हैं कि आपको सिलसिलेवार ढंग से कैसे क्या करना है-

1. किस विषय पर ब्लॉग शुरू करें
यह सबसे अहम है कि किस टॉपिक पर अपना ब्लॉग शुरू करें। कमाई के लिए जरूरी है कि आपका ब्लॉग न्यूज से अलग हटकर किसी खास सब्जेक्ट पर हो। न्यूज में कंपीटिशन काफी ज्यादा है। आप किसी भी न्यूज चैनल या अखबार के वेबसाइट को टक्कर नहीं दे सकते। उनके यहां 20 से लेकर 50 तक लोग एक वेबसाइट पर काम करते हैं। पूरी टीम होती है। उनका मुकाबला करना मुश्किल है। इसलिए किसी ऐसे विषय को चुनिए जिसमें कंपीटिशन कम है और उस विषय पर लिखने में आपको मजा आता है।

आप मोबाइल, टेक, प्रोडक्ट रिव्यू, लाइफस्टाइल, फैशन, किसी खास खेल, ट्रेवल एंड टूरिज्म, गांव-घर, कहानी, कविता, फोटोग्राफी, खानपान किसी भी विषय पर लिख सकते हैं। लेकिन इस बात पर ध्यान रखिएगा कि उस विषय पर आपकी पूरी पकड़ हो और उससे आपका पैशन जुड़ा हुआ हो। उस विषय पर आप कभी भी- कहीं भी दो घंटे का लेक्चर दे सकते हों।

किसी खास एक विषय पर लिखने का फायदा यह रहता है कि लोगों को यह याद रहता है कि इस बारे में कुछ पढ़ना है तो उस ब्लॉग पर चलते हैं।

2. नाम का चयन
किस विषय पर लिखना है यह तय करने के बाद सबसे अहम है कि ब्लॉग का नाम क्या हो। नाम तय करने में इस बात का ध्यान जरूर रखिए कि लोगों को यह नाम आसानी से याद रहे। कोई गूगल पर सर्च करे तो आपका यह नाम आसानी से मिल जाए। छोटा और आकर्षक नाम बेहतर रहेगा। हमेशा दो-तार नाम एक्सट्रा सोच कर रखें क्योंकि ब्लॉग शुरू करते वक्त हो सकता है किसी और ने उस नाम को पहले से ले रखा हो।

3. नाम यानी डोनेम खरीदना
नाम तय कर लेने के बाद उस नाम को बुक कराने के लिए आपको किसी भी डोमेन रजिस्ट्रार से उसे खरीदना होगा। आप उस नाम को गो-डैडी (Godaddy) जैसे किसी रजिस्ट्रार से खरीद सकते है। आम तौर पर एक साल के लिए आपको 10 डॉलर भुगतान करना होगा। यानी नाम के लिए भी आपको हर साल भुगतान करना होगा। अगर एक साल बाद उस नाम को रिन्यू नहीं कराते हैं तो आपका वह नाम यानी डोमेन आपके पास नहीं रहेगा।



4. फ्री या पेड ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म
ब्लॉगिंग शुरू आप कई तरह से कर सकते हैं। गूगल के ब्लॉगस्पॉट से या वर्डप्रेस से आप फ्री में अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं। फ्री में आप जो नाम तय करेंगे उसके आगे ब्लॉगस्पॉट या वर्डप्रेस का नाम जुड़ जाएगा। मान लीजिए आप फैशन पर ब्लॉग शुरू करना चाहते हैं। फ्री में ब्लॉगस्पॉट या वर्डप्रेस पर बिना होस्टिंग के शुरू करेंगे तो fashion.blogspot.com या fashion.wordpress.com हो जाएगा। इसमें आपका अपना कुछ खास नहीं झलकेगा। आप ब्लॉगस्पॉट या वर्डप्रेस से भी पैसा देकर ब्लॉग चला सकते हैं। पैसा देने पर वह fashion.com हो जाएगा। कमाई करने के लिए पैसा खर्च करना बेहतर रहता है। कमाना है तो लगाना पड़ेगा।

आप ब्लॉगस्पॉट से अपने ब्लॉग को डोमेन खरीद कर होस्ट भी कर सकते हैं लेकिन इसमें आपके पास ऑप्शन कम होता है। यहां से ब्लॉग को लोकप्रिय बनाने में काफी मुश्किल आती है। यहां ब्लॉगिंग के हिसाब से जो प्लगिन, विजिट होने चाहिए आपको नहीं मिलेंगे। ब्लॉगस्पॉट पर ब्लॉग चलाने पर आपको होस्टिंग के पैसे नहीं लगेंगे सिर्फ 10 डॉलर सालाना डोमेन के खर्च होंगे।

जबकि वर्डप्रेस पर आपको डोमेन और होस्टिंग दोनों के पैसे खर्च करने होंगे। वर्डप्रेस काफी लोकप्रिय है और एसईओ के हिसाब से वर्डप्रेस पर ब्लॉग बनाना बेहतर रहता है। दुनिया में करीब 30 प्रतिशत ब्लॉग वर्डप्रेस के प्लेटफॉर्म से चलता है। यहां आपको लाखों प्लगिन, विजिट, थीम और डिजाइन मिलेंगे। यहां आप अपने ब्लॉग को जो रूप देना चाहे दे सकते है। पैसा के साथ यहां फ्री में भी लाखों प्लगिन और थीम-टेप्लेट मिलेंगे।

5. होस्टिंग
अगर आपने तय कर लिया है कि ब्लॉलिंग से मुझे नियमित रूप से कमाना है तो आपको किसी बेहतर कंपनी से होस्टिंग लेनी होगी। होस्टिंग एक तरह से किराये की जगह है जहां आपको अपनी दुकान खोलनी है। इसके लिए आपको बाजार में दर्जनों जगह यानी गो-डैडी की तरह होस्टिंग कंपनियां मिल जाएंगी। वैसे वर्डप्रेस खुद ब्लूहोस्ट, ड्रीमहोस्ट और साइटग्राउंड को रेकमेंड करता है। यहां से शुरू में कोई कम पैसे का प्लान लेकर अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं।

अगर आपके पास कोई टेक्निकल जानकारी नहीं है तो आसपास जो लोग होस्टिंग का काम करते हैं आप उनसे भी संपर्क कर सकते हैं। आप उनसे कभी भी डांट-डपटकर या प्रेम से काम ले सकते हैं। जबकि बड़ी कंपनी से होस्टिंग लेने पर कुछ भी परेशानी आने पर वो अपने प्रोग्रामर या डेवलेपर से संपर्क करने को कहेंगे। जो आपके पास होगा नहीं और आप कुछ ज्यादा कर नहीं पाएंगे।

6. थीम- टेंप्लेट डिजाइन
होस्टिंग ले लेने पर आपको वर्डप्रेस का डिफॉल्ट थीम अपलोडेड मिलेगा। आप चाहे तो उसी को सही से सजा सकते हैं प्लगिग और विजिट की मदद से, या फिर कोई दूसरा थीम-टेंप्लेट चुनकर इंस्टॉल कर सकते हैं। कई प्रोफेशनल प्रीमियम थीम भी होते हैं जिसके लिए आपको 20 से लेकर 60 डॉलर तक खर्च करने पड़ सकते हैं। आप अपने सब्जेक्ट के हिसाब से कोई अच्छा सा थीम लेकर ब्लॉग शुरू कर सकते हैं।

7. प्लगिन
थीम- टेंप्लेट डिजाइन कर लेने के बाद आपको कुछ प्लगिन एड करने होंगे। योस्ट या ऑल इन वन एसईओ जैसे प्लगिन ब्लॉग के SEO के लिए काफी जरूरी होते हैं। इन SEO प्लगिन के जरिए आप गूगल या किसी सर्च इंजन में सर्च में बेहतर रिजल्ट पा सकते हैं। आप खुद चाहेंगे कि कोई आपका ब्लॉग सर्च करे तो गूगल सर्च में सबसे ऊपर दिखे। इसके लिए SEO Plugin काफी सहायक होता है। इसके साथ ही आप जेटपैक, सोशल मीडिया शेयर प्लगिन अपलोड कर सकते हैं। प्लगिन भी प्रो कटेगरी के आते हैं जिसके लिए पैसा देना पड़ता है, लेकिन आप शुरू में प्लगिन के लिए पैसा नहीं खर्च कीजिए। कमाई शुरू हो जाए तो बेहतर ढंग से इसपर ध्यान दीजिएगा।

8. कटेगरी सेटिंग
इसके बाद आप अपने ब्लॉग में कटेगरी यानी विभाग सेट कर सकते हैं। जो टाइटल के ठीक नीचे दिखे। यह सेट करने के बाद आप अपना ब्लॉग लिखना शुरू कर दीजिए।



9. पोस्ट
किसी भी ब्लॉग का सबसे अहम हिस्सा है उसका पोस्ट। पोस्ट लिखना शुरू करने से पहले पूरी तरह से विचार कर लीजिए। पहले उसका एक खाका तैयार कर लीजिए। प्वाइंट वाइज लिखते जाइए। इस तरह से लिखिए कि लोग उसे पढ़ना शुरू करें तो खत्म करके ही उठे। चूंकि आपने अपना ब्लॉग अपने मन लायक सब्जेक्ट पर रखा है इसलिए मन लायक विषय पर लिखना शुरू कीजिए जो दूसरे लोगों को भी पसंद आए। लिखते वक्त यह जरूर ध्यान में रखिए कि लोग क्या पसंद करेंगे। इस तरह से लिखिए कि उन्हें लगे आप उनके सामने बैठकर बात कर रहे हैं। हमेशा इस तरह से लिखिए जिससे लोगों को फायदा हो। लोग उस तरह के पोस्ट को ज्यादा पसंद करते हैं जिससे उन्हें कुछ फायदा हो। इस तरह की जानकारी मिले जिससे वे कुछ कमा सके।

पोस्ट को बढ़िया से लिखिए उसमें बढ़िया सा एक-दो फोटो भी लगाइए। कोशिश कीजिए की अपना लिया हुआ फोटो हो नहीं तो गूगल की जगह फ्री इमेज साइट से फोटो लीजिए। जिससे की कॉपीराइट का झंझट ना हो।

10. सोशल मीडिया
लिखने के बाद उसे फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और व्हाट्सएप पर शेयर भी कीजिए। दोस्तों को पढ़ने के लिए बोलिए। उनसे अपनी राय, कमेंट देने के लिए कहिए। पोस्ट को खुद भी पढ़िए और देखिए उसमें और क्या-क्या कर सकते हैं।



11. एडसेंस और कमाई के अन्य तरीके
अब आखिर में आता है कि जिससे लिए ब्लॉग शुरू किया वो कमाई कैसे शुरू हो। ब्लॉग से कमाई का सबसे बढ़िया तरीका है गूगल एडसेंस का। लेकिन ब्लॉग बनाने के साथ ही यह नहीं होगा। इसके लिए आपको कुछ इंतजार करना होगा। गूगल एडसेंस पर अकाउंट बनाकर ब्लॉग में कोड डालकर पैसा कमा सकते हैं। एडसेंस के अलावा भी एफिलिएट मार्केटिंग से भी पैसा कमा सकते हैं। किसी प्रोडक्ट या किसी इवेंट के बारे में लिखकर भी पहले अपना नाम बनाइए फिर उनसे पैसा कमाइए। कमाई के तरीके के लिए आप इस पोस्ट को पढ़कर ज्यादा जानकारी पा सकते हैं-

ब्लॉग से कमाई के आसान तरीके

तो शुरू कीजिए ब्लॉग लिखना। मनोरंजक, रोचक अंदाज में लिखिए और पैसा कमाइए। आप सभी को शुभकामनाएं।

-हितेन्द्र गुप्ता

मैं अपने ब्लॉग को #Blogchatter के #MyFriendAlexa के साथ अगले स्तर पर ले जा रहा हूं।


#TalesOfHitendra #Hitendrawrites #MyFriendAlexa #Blogchatter

2 comments:

  1. its always great to earn while writing so well explained.

    ReplyDelete
  2. It isn't easy to earn through blog but it is surely a good option for slow earnings

    ReplyDelete